7 software testing principles (in Hindi) | हिंदी में

आज हम software testing  के tutorial में एक बहुत महत्वपूर्ण topic 7 software testing principles (in Hindi) , software testing: principles and practices in hindi , test case in software testing in hindi, principles of software testing with examples और  7 software testing principles basic knowledge को अच्छे से जानेंगे . तो चलिये शुरू करते है . hello दोस्तों आपका Hindi me iT में बहुत – बहुत अभिनन्दन है .

software testing के कुछ principle हैं जो testing उन पर काम करता हैं . testing हम कुछ principle को ध्यान में रखकर करते हैं .

पहले ये जानते हैं testing में principle की जरूरत क्यों होती हैं.

testing में principle इसलिये जरुरी हैं ताकि जो हम काम कर रहे हैं वह एक uniform pattern , discipline में हो सके इसके लिये हम कुछ सिध्दांत flow करते हैं . जिससे हमको output अच्छा मिल सके .

7 software testing  principle in hindi

  1. show presence of error
  2. Exhaustive
  3.  Early testing
  4. Defect clustering
  5. Pesticide   paradox
  6. testing is context dependent
  7. absence of error fallacy

7 software testing principles (2)

 

अब इस सबको detail में समझते हैं.की हर एक principle का क्या importance हैं और हर एक principle हमको क्या approach देता हैं .

  1. show presence of error

हम कोई application को test कर रहे हैं तो ये principle हमको बताता हैं . की इसलिए  हम text cases जो design किया हैं वो बहुत ही जरुरी हैं . हमको text cases काफी ध्यान में रख कर design करने होते हैं . जिसकी help से हमको ज्यादा से ज्यादा defect मिल सके .

इनको भी पढ़े 

2 . Exhaustive

ये principle हमको बताता हैं . की Exhaustive testing is impossible . चलिये इसको एक example से समझते हैं.

Restaurant की billing का=: Restaurant में एक particular vat रखा हुआ हैं.जो हम हर बार नही देखते की 1000 पर कितना vat हैं , १२००० पर कितना vat हैं अगर हम ऐसा ही करते रहेंगे तो testing कभी ख़तम ही नही होगी .

तो ये principle बताता हैं.की किसी reason के लिये हमको जो risk वो check करना हैं .उसका क्या output आ रहा हैं .

3. Early testing

यानी की हमको testing बहुत जल्दी शुरू कर देनीचाहिए . जब किसी application की  requirement आ रही हैं . तभी से testing शुरू क्र देनी चाहिये जैसे की उसके document देख सकते हैं . उसकी design देख सकते हैं .ये software development के first phase में भी हो सकता हैं .

4 . Defect clustering

जयादातर report किये हुये defect एक small number होते हैं . इसका मतलब एक छोटा सा भी modules इसके अंदर भी बहुत से defect हो सकते हैं .

Example :-

login module में इतने combination होते हैं . और कहीं ना कंही कुछ combination छुट जाये तो बहुत सारे defect आ सकते हैं .

7 software testing principles

इनको भी पढ़े 

5 .Pesticide paradox

इसका मलतब जो हमने पहली बार application को develop करने में जो text cases  module बनाये थे . उन same text cases module को उस application के दुसरे version में use नही कर सकते . ऐसा करने पर हम उसमे bug नही निकल पाएंगे .

example :-

जैसे whatsapp के  first version में हमने text cases module बनाये थे . और आज version four हैं हम उन text cases use नही कर सकते कक्योंकि जब first version आया था तब android 8 था और अब android 9 हैं . इसके हिसाब से same text cases अप्लाई नहीं कर सकते हैं .

6 . testing is context dependent

ये principle हमको बताता हैं . अगर हमmedical software की testing  में जिन text module cases use कर रहे हैं . उन text cases module को gaming software पर apply नही कर सकते हैं . medical software  में जो कैलकुलेशन वह बहुत सटीक और बहुत ही reliable होनी चहिये . इसमें एक छोटी सी भी गलती बहुत बड़ा नुकसान कर सकती हैं . gaming software में हम उसकी जो भी hardware के ऊपर चल रही होती हैं .उसको कितनी ram चाहिये ,computer hang तो नहीं होगा . तो ये सब देखते है gaming software की testing  में .

7. absence of error fallacy

absence of error fallacy का मतलब हमने किसी software की testing तो की लेकिन हमको error नही मिले तो इसका मतलब software काफी अच्छा हैं. या हमारी testing अच्छे से नहीं हुई. अगर हमारे text cases से error नहीं मिल रही . तो हमारे text cases को software के हिसाब से design नहीं किया गया . जिससे ज्यादा से ज्यादा error निकल सके . इसके लिये हम फिर से text cases  को upgrade करेंगे . फिर से software requirement check करेंगे उसके कुछ factors देखेंगे . फिर उसी तरह से software के text cases तैयार करेंगे .

अगर software में issues नहीं हैं तो इसका मतलब ये नहीं software तैयार हैं नहीं हमको फिर से अपने text cases को upgrade करके फिर से testing करनी होगी. click

इनको भी पढ़े 

आशा  करता हूँ आपको topic 7 software testing principles (in Hindi) , software testing principles and practices in hindi , test case in software testing in hindi, principles of software testing with examples और  7 software testing principles basic knowledge  समझ में गया होगा . अगर आपको इससे related कोई question पूछना है तो आप comment करके पूछ सकते है . हम आपकी comment का जबाब जरुर देंगे . अगर हमारे द्वारा दी गयी जानकारी अच्छी लगी हो तो हमे comment करके जरुर बताये और आपका हमको कोई सुझाब हो तो उसे भी जरुर बताये . दोस्तों आपसे एक request है . आप इस जानकारी को आपने दोस्तों , रेस्तेदारो के साथ जरुर शेयर करे | धन्यबाद

Leave a Comment