what is API in Hindi | API क्या हैं? इसकी पूरी जानकारी |2022

इस आर्टिकल में हम what is API in Hindi | API क्या हैं? और types of API in Hindi के बारे में जानेंगे.  दोस्तों hindi me iT me आपका बहुत बहुत अभिनान्दन हैं.

API की full फॉर्म क्या हैं? | what is API full form in Hindi?

API के बारे में जानने से पहले हमको API की फुल फॉर्म के बारे में पता होना चाहिए।  API की full form – Application Programming Interface” होती हैं। इसके नाम से ही इसके बारे में बहुत कुछ पता चल रहा हैं।

what is API in Hindi | API क्या हैं?

simple शब्दों में कहे तो API एक माध्यम हैं जिसके व्दारा back end को front end से कनेक्ट करता हैं। back end और front end को एक example से सझते हैं।

मानलो आप youtube की वेबसाइट पर जाते हो तो उस वेबसाइट जाने के बाद आपको वहाँ पर जो दिखाई दे रहा हैं।  वह सब front end हैं। अब back end को समझते हैं।

जब आप youtube की वेबसाइट पर कर आप कुछ सर्च करते हैं मानलो आपने सर्च किया “डाटा टाइप्स क्या हैं” उसे बाद सर्च होकर कुछ videos आ जाती हैं। search करने के दौरान जो हुआ वो हमें दिखाई नहीं दिया क्योकिं बो सब back end यानी की server पर हुआ था।

जब आप youtube पर कुछ सर्च करते हैं तो आप API को हिट (request ) करते हैं। फिर वह API back end में लिखे लॉजिक के अनुसार हमको videos response में भेजती हैं। यानी की API back end को front end से कनेक्ट करने का एक माध्यम हैं।

API को एक और Example से समझते हैं।

आपने गूगल map का तो कभी न कभी use जरूर किया होगा।

आपने google map को आपने app और website दोनों पर use किया होगा जब आप map में कोई भी दुरी चेक करते हैं तो app और वेबसाइट पर same दिखाई देती हैं। जबकि डिवाइस अलग-अलग हैं फिर भी दुरी same दिखाई दे रही हैं। आपने सोचा हैं ऐसा कैसे होता हैं।

ऐसा इसलिये होता हैं क्योकिं आप अलग-अलग डिवाइस से same API हिट कर रहे हैं इसलिए response same आ रहा हैं। इससे से आप क्या समझे।

इससे हम ये समझे की API के माध्यम से हम एक ही  back end ( server ) multiple डिवाइस कनेक्ट कर सकते हैं। इससे हमको ये फायदा हुआ की हमको अलग-अलग डिवाइस के लिए अलग-अलग back end नहीं बनाना पड़ेगा।

API कैसे काम करती है? | How does the API work in Hindi?

जैसे की हम पहले भी बात कर चुके हैं।  API का काम back end को front end कनेक्ट करना हैं। अब ये काम कैसे करता हैं इसे समझते हैं।

जब आप किसी वेबसाइट पर जाते हैं। मानलो आप gmail की website पर जाते हैं। वहाँ जाने के बाद आप उसमे लॉगिन करते हैं login करते सयम अगर आप password गलत डाल देते हैं तो आपको एक मैसेज दीखता हैं की आपने पासवर्ड गलत डाल दिया हैं। आपने पासवर्ड गलत डाला उसे ये सब पता कैसे चल। इसे समझते हैं।

जब आप गलत password डालते हैं। जो आप password डाला हैं वह password API के व्दारा back end यानी serve पर जाता हैं। वहाँ लिखे लॉजिक के अनुशार चेक करता की ये वही पासवर्ड जब user ने अकाउंट बनाते समय डाला था। जब उस पासवर्ड से मैच नहीं करता हैं तो आपको एक error मैसेज दीखता हैं।

API in Hindi

 

 

जैसा की आप image देख सकते हैं। सबसे पहले use Browser के व्दारा Request करता हैं।  वह request API के माध्यम से उस वेबसाइट के serve के पास जाती हैं।  फिर उस request के अनुशार back end में लिखे लॉजिक के अनुशार यूजर को Response उसके Browser पर मिलता हैं।

Uses of API | API के उपयोग

  • Time Saving | सयम की बचत

API की हेल्प से एक कंपनी और user दोनों ही आपने टाइम की बचत कर सकते हैं।

Example :- मानलो आपने gamail की वेबसाइट पर जाकर आपने एक gmail अकाउंट बनाया और वहीं आपने कुछ mail किये। अब आप मोबाइल में gmail application use कर रहे हैं। तो आपको application में अलग से अकाउंट बनाने की जरूरत नहीं। आप उस अकाउंट को ही use कर सकते हैं। जो आपने वेबसाइट पर बनाया था। 

इसे ये फायदा हुआ की एक user के लिए दो अकाउंट बनाने की जरूरत नहीं पड़ी वही कंपनी को मोबाइल और वेबसाइट के लिए अलग अलग back end नहीं लिखना पड़ा।

  • Partnership और Business

API की हेल्प से बिज़नेस और companies के बीच में पार्टनरशिप बढ़ जाती हैं।

Example 1  :- आपने Zomato या swiggy से भोजन कभी न  कभी जरूर मगाया होगा। जैसे ही आप भोजन ऑर्डर करते हैं वैसे ही आप delivery boy को ट्रेक कर पाते हैं। Zomato या swiggy ये सब गूगल map की API का use करते हैं।

Example 2 :- आपने कभी न कभी अपने फ्रेंड को व्हाट्सअप के व्दारा अपनी लोकेशन जरूर शेयर की होगी। वहाँ पर भी व्हाट्सअप गूगल map की API का use करता हैं।

  • Efficiency

API का use करने से किसी भी product की Efficiency को काफी हद तब बढ़ाया जा सकता हैं। API की हेल्प से यूजर इंटरेक्शन बढ़ जाता हैं।

API के प्रकार | types of API in Hindi

API (application programming interfaces) की की forms हो सकती हैं। API developer एक नई API बनाते समय की प्रोटोकॉल और standards को ध्यान में रख कर बनाते हैं। जो API developer बना रहे हैं उनके उद्देश्य पर निर्भर करता हैं। अब हम कुछ API के बारे में जानते हैं।

Web API

web API वे API होती हैं। जिनको एक्सेस करने के लिए HTTP प्रोटोकॉल का use करना पड़ता हैं। एक API  endpoints और valid request और response को defines करता हैं। Web API का use ब्राउज़र के साथ communicate करने के लिए लिया जाता हैं।

Open API

Open API को आप Open API या public API कह सकते हैं। इन API को डेवलपर्स और other users के लिए कुछ restrictions के साथ use कर सकते हैं।

Internal API

Open API के विपरीत internal API होती जिसको केवल compny अपने use के लिए डिज़ाइन करती हैं।

Partner API

Partner API technically open API के समान ही हैं। लेकिन इसमें restricted access की सुविधा होती हैं। इस API को use करने के लिये आपको जिसने API बनायीं हैं उससे पेर्मिशन लेनी पड़ती हैं। और आपको भुगतान भी करना पड़ता हैं उस API को use करने के लिए।

Composite API

Composite API किसी भी developers को api के कई समापन endpoints को access करने की अनुमति देती हैं। एक ही API के अलग-अलग एंडपॉइंट हो सकते हैं या आसान शब्दों में कहे तो multiple services हो सकती हैं। Composite API के use से सर्वर पर लोड कम किया जा सकता हैं।

Popular API के Examples

  • Google Maps API – Google Maps API के बारे में तो हम आपको पहले ही बता चुके हैं। इस API के multiple uses होते हैं।  अगर आप Google Maps API की को commercially use करते हैं तो आपको इसके लिए आपको गूगल के pay करना पड़ेगा। 
  • Google translate API – Google translate API बहुत Popular API हैं जिसका use लैंग्वेज को ट्रांसलेट करने के लिए किया जाता हैं।
  • Payment Gateway API – Payment Gateway API का भी use आपने अनेक वेबसाइट पर देखा होगा जैसे :- amazon पर होता हैं।
  • UPI API –  आज भारत में बहुत सारे app UPI API का use कर रहे हैं। जैसे:- PhonePay, Google Pay, Paytm आदि

By reference :- https://stoplight.io/api-types#internal-apis

Conclusion

इस आर्टिल्स में हमने सीखा what is API in Hindi | API क्या हैं?और types of API in Hindi

 

दोस्तों मैं आशा करता हूँ कि आपको ये जानकारी पसंद आयी होगी और यदि ये जानकारी आपको पसंद आयी हो तो इस जानकारी को अपने दोस्तों के साथ शेयर करे ताकि उनको भी what is API in Hindi | API क्या हैं?और types of API in Hindi को जानने हेल्प मिलेगी।

अगर आपको अभी भी what is API in Hindi | API क्या हैं?और types of API in Hindi से संबंधित कोई भी प्रश्न या Doubt है तो आप कमेंट्स के जरिए हमसे पुछ सकते है। मैं आपके व्दारा पूछा गये सभी सवालों का जवाब दूँगा।

अगर आपको हमारे व्दारा दी जानकारी पसंद आती हैं और आप  ,Computer Science, इंटरनेट, IT, मॉडल टेक्नोलॉजी और new जानकारी पढ़ना अच्छा लगता हैं. तो आप हमारे इस ब्लॉग को जरूर सब्सक्राइब कर कर लो | अगर आपका हमको कोई नया सुझाब देना हैं तो वह भी बताये।

FAQ प्रश्न

 

API की full फॉर्म क्या हैं?

Application Programming Interface

API कैसे काम करती है?

जब आप गलत password डालते हैं। जो आप password डाला हैं वह password API के व्दारा back end यानी serve पर जाता हैं। वहाँ लिखे लॉजिक के अनुशार चेक करता की ये वही पासवर्ड जब user ने अकाउंट बनाते समय डाला था। जब उस पासवर्ड से मैच नहीं करता हैं तो आपको एक error मैसेज दीखता हैं।

1 thought on “what is API in Hindi | API क्या हैं? इसकी पूरी जानकारी |2022”

  1. Words cannot describe my genuine gratitude for all that you have done. From the bottom of my heart, thank you for this Article.

    Reply

Leave a Comment